Written by 9:15 am Covid19 Views: 6

मुंबई में आज से पटरी पर लोकल ट्रेन, आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोग कर सकेंगे यात्रा

मुंबई में आज से पटरी पर लोकल ट्रेन, आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोग कर सकेंगे यात्रा

देश में कोरोनावायरस के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में सामने आए हैं. राज्य में मुंबई शहर कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित है. वहीं, मुंबई (Mumbai Local Trains) में आज (सोमवार) से कुछ लोकल ट्रेनें शुरू हो गई हैं. इन ट्रेनों में वही लोग सफर कर सकेंगे जो आवश्यक सेवाओं से जुड़े हुए हैं. पश्चिमी रेलवे की ओर से ट्वीट कर इसकी जानकारी दी गई है. ट्वीट में बताया गया है कि आज से शुरू हो रहीं लोकल ट्रेनों में आम यात्रियों को यात्रा की इजाजत नहीं होगी. लोगों से कहा जाएगा कि स्टेशन पर भीड़ में जमा न हों.

रेलवे के ट्वीट में कहा गया है कि पश्चिम रेलवे ने फैसला लिया है कि मुंबई में सोमवार से चुनिंदा रूट्स पर कुछ लोकल ट्रेनें नियम व शर्तों के साथ शुरू होंगी. राज्य सरकार द्वारा चिन्हित आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोग ही इन ट्रेनों से यात्रा कर सकते हैं. आज सुबह 5:30 बजे से ट्रेन चलनी शुरू हो गई है. 15 मिनट के अंतराल के साथ यह ट्रेनें रात 11:30 बजे तक चलेंगी.

ज्यादातर ट्रेनें चर्चगेट और विरार के बीच चलेंगी. कुछ ट्रेनें दहानु रोड तक भी चलेंगी. रेलवे की ओर से बताया गया है कि मुंबई में जरूरी सेवाओं से जुड़े करीब सवा लाख लोग इन ट्रेनों में सफर कर सकेंगे. जिनके पास पास है, वह लोग भी यात्रा कर सकते हैं.

रेलवे स्टेशन आने पर उनके पास या राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त आईडी कार्ड चेक किए जाएंगे. ट्रेनों में सोशल डिस्टेंसिंग का भी ख्याल रखा जाएगा. 1200 यात्रियों की क्षमता वाली ट्रेन में सिर्फ 700 लोग ही यात्रा कर पाएंगे. रेलवे स्टेशन पर भीड़ न हो, इसके लिए रेलवे ने राज्य सरकार से उसके अधीन आने वाले दफ्तरों की टाइमिंग में भी बदलाव के लिए कहा है.

बता दें कि देश में कोरोना की सबसे भीषण मार झेल रहे मुंबई शहर में 99 प्रतिशत आईसीयू भर चुके हैं. वहीं अब तक शहर के 94 प्रतिशत वेंटिलेटर का इस्तेमाल में लाए जा चुके हैं. ब्रह्ममुंबई महानगर पालिका (BMC) ने शनिवार को यह जानकारी दी. 11 जून तक मुंबई शहर में 1,181 आईसीयू बेड मौजूद थे, जिनमें से 1,667 बेड मरीजों से भर चुके हैं. नए मरीजों के लिए केवल 14 बेड शेष बचे हैं. वहीं वेंटिलेटर मशीनों की बात करें तो 530 मशीनों में से 497 वेंटिलेटर अभी प्रयोग में हैं. BMC ने बताया कि ऑक्सीजन बेड भी करीब 76 प्रतिशत भर चुके हैं. राज्य में 5,260 ऑक्सीजन बेड्स में से 3,986 भर चुके हैं.

(Visited 6 times, 1 visits today)
Close