Written by 9:10 am Education Views: 0

IIT दिल्ली के डायरेक्टर ने जेईई एडवांस्ड के छात्रों से कहा- पहले वर्ष में अच्छा प्रदर्शन करने वाले छात्र बदल सकेंगे ब्रांच

जेईई एडवांस्ड 2020 के कई उम्मीदवार अपनी ब्रांच को बदलने के लिए सवाल कर रहे हैं. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान दिल्ली (IIT दिल्ली) के निदेशक, वी रामगोपाल राव ने उम्मीदवारों के जवाब में बताया कि हर साल 100 से अधिक छात्रों को अपने पहले वर्ष के प्रदर्शन के आधार पर अपनी ब्रांच बदलने की अनुमति दी जाती है.

आईआईटी दिल्ली   के डायरेक्ट ने अपने ट्विटर पर हैंडल के  माध्यम से कहा, “कई जेईई एडवांस्ड 2020 के योग्य उम्मीदवार मुझे लिख रहे हैं कि उन्हें शाखा परिवर्तन की अनुमति नहीं दी जाएगी. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान दिल्ली (IIT दिल्ली) में 100 से अधिक छात्रों को हर साल अपनी शाखा बदलने की अनुमति दी जाती है, जो उनके 1 वर्ष के प्रदर्शन के आधार पर तय होती है. हम वास्तव में इस प्रक्रिया को और अधिक फ्लेक्सिबल बनाने की कोशिश कर रहे हैं. ”

IIT दिल्ली की गाइडलाइन्स ब्रांच बदलने के लिए इस प्रकार हैं…
पहले वर्ष के अंत में केवल वही छात्र शाखा परिवर्तन के लिए आवेदन कर सकते हैं, जो निम्नलिखित क्राइटेरिया को पूरा करते हों…

– सामान्य और ओबीसी श्रेणी के छात्रों के लिए CGPA 8.00 से अधिक होना चाहिए.
– विकलांग वर्ग के छात्रों और SC / ST के छात्रों के लिए CGPA 7.00 से अधिक होना चाहिए.
– पहले वर्ष के दूसरे सेमेस्टर के अंत में क्रेडिट या नॉन ग्रेडेड यूनिट्स होनी चाहिए.
– प्रत्येक कार्यक्रम द्वारा एक प्रथम वर्ष के पाठ्यक्रम की पहचान की गई है, जिसमें आवेदक का ग्रेड बी के बराबर या उससे ऊपर होना चाहिए.
– आवेदन करने वाले छात्र के खिलाफ कोई अनुशासनात्मक कार्रवाई नहीं होनी चाहिए.

(Visited 1 times, 1 visits today)
Close